July 6, 2020

 देश की आर्थिक स्थिति ख़राब , छिपाने के लिए सरकारी सम्पति का हो रहा निजीकरण – राज्यसभा सांसद

रीवा | अतिवर्षा के चलते किसानो की तिलहन फैसले नष्ट हो गई साथ ही कई किसानो के घर धरासाई हो गए ऐसे में शासन सर्वे करा कर उचित मुआवजा वितरित करे साथ ही केंद्र सरकार भी किसानो को सहायता प्रदान करे यह कहना था राज्य सभा सांसद राजमणि पटेल का उन्होंने पत्रकार वार्ता में कहा की देश की आर्थिक स्थिति ख़राब है जिसे छिपाने के लिए सरकार सरकारी सम्पति का निजीकरण कर रही है |

अतिवर्षा के कारण फैसले बर्बाद हो गई उर्दा ,मूंग  तिल तथा सब्जी पूरी तरह से नष्ट हो चुकी है| किसानो की फसल गिरदारी पहले ठीक से नहीं होने के कारण किसानो को गलत गिरदारी के कारण लाभ नहीं मिल पा रहा है | शासन के मांग है की सही सर्वे करा कर मुआवजा दिया जाए साथ ही केंद्र सरकार को भी चाहिए ऐसे आपदा के समय बिना भेदभाव के आपदा में सहायता राशि उपलबध कराये जिससे किसानो को सहायता मिल सके | लेकिन खेद की बात है की आजतक कोइ सहायता राशि नहीं प्रदान की गई इतना ही नहीं केंद्र सरकार ने मध्य प्रदेश का रेगुलर  बजट का तक नहीं दिया |

उन्होंने कहा गाँधी  का सपना था ग्राम स्वरोजगार का , छुआछूत मिटाने का कांग्रेस पार्टी गाँधी विचार धारा से चल रही है | उस विचार धारा को बड़े ही सुन्योजित तरीके से प्रयास हो रहा है गाँधी विचारधारा को कैसे मिटाया जाए | दोहरा चरित्र है इनका दिल में गोडसे है और मुँह में गाँधी और गाँधी की यात्रा निकालने उनके विचार की दुहाई देने के पीछे क्या सच है | किस विचारधारा से लोगो ने गोडसे को देशभक्त कहा , गाँधी को देशद्रोही कहा सुभाष चंद्र बोस , चंद्रशेखर अजाक को आतंकवादी की संज्ञा दी | वो कौन विचारधारा थी भारतीय जनता पार्टी गाँधी के विचारधारा को समाप्त करना चाहती है | पूंजीपतियों को लाभ दिलाना चाहती है | अर्थव्यवस्था पूरी तरह से चौपट हो गई झूठे आंकड़े दीखाये  उन आकड़ो को सही साबित करने  सरकारी सम्पती का निजीकरण किया जा रहा है |